Vishva hindi diwas par kavita/सीताराम चौहान पथिक

Vishva hindi diwas par kavita: हर साल 10 जनवरी भारतीय दूतावास के लिये खास होता है क्योंकि इस दिन विश्व हिंदी दिवस खास तौर पर इन जगहों पर मनाया जाता हैं विश्व हिंदी दिवस का उद्देश्य हिंदी को अंतरराष्ट्रीय भाषा के रूप प्रचारित-प्रसारित करना है।विश्व में कही पर भी जहाँ पर भारतीय दूतावास है यह हिंदी भाषा का अंतरराष्ट्रीय दिवस हर्षोल्लास से मनाया जाता है। सभी सरकारी कार्यालयों में हिंदी में व्याख्यान आयोजित किये जाते है,विश्व में हिंदी का प्रचार प्रसार हो इसलिए विश्व हिंदी सम्मेलन की शुरुआत की 10 जनवरी 1975 पहला विश्व हिंदी सम्मेलन नागपुर में आयोजित किया गया था इसी दिन से विश्व  हिंदी दिवस मनाया जाने लगा। भारत मे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कार्यकाल में 10 जनवरी 2006 को विश्व हिंदी दिवस मनाने की घोषणा की, इस प्रकार से भारत मे भारतीय विदेश मंत्रालय ने पहला विश्व हिंदी दिवस इस दिन मनाया था।

विश्व हिन्दी दिवस ।


विश्व हिन्दी दिवस पर ,
शत्-शत नमन हिन्दी तुझे ।
घर में निरादॄत- विश्व पूजित ,
चमत्कॄत हिऺदी कर गई मुझे।

हिन्दी तू विश्व – वंदनीय ,
प्रवासी तेरे अनेक भक्त ।
देश में भी सुत तेरे ,
बना रहे तुझे सशक्त ।

यश- कीर्ति की स्वर्णिम ध्वजा
फहरा रही है विश्व में ।
साहित्य- कला – संस्कृति की
छाप है हर दृश्य में ।।

हिन्दी भाषा – भाषियों ने ,
बहुमत से सम्मानित किया।
शिष्ट मण्डल कला संस्कृति के
हिन्दी को जीवन-रस दिया।

हिन्दी सिनेमा – मीडिया से ,
विश्व में इक क्रान्ति आई ।
गीत फिल्मी साहित्य कॄतियाऺ
विश्व को हिन्दी सुहाई ।

हिन्दी समन्वित शिष्ट भाषा ,
वैज्ञानिकीय है दॄष्टिकोण इसका ।
समाहित है इसमें अऩेक ध्वनियां ,
सानी नहीं है कोई इसका ।

विश्व हिन्दी दिवस का हम ,

स्वागत करें विश्व स्तर पर।
हिंदी को व्यावहारिक बनाएं ,
अहिऺदी भी गाएं साथ मिलकर ।

राजभाषा- राष्ट्र भाषा बने हिऺदी ,
कोई जन नायक को सद्बुद्धि दे ।
राजनीति छोड़ भारत हित जिएं ,
मां शारदा की हार्दिक आशीष लें ।

राष्ट्र हित में त्याग दें निज स्वार्थ ,
हिन्दी विश्व भाषा का करें सम्मान ।
समॄद्ध होगी प्राऺत – भाषा ,
पाएगी सर्वोच्च स्थान ।

विश्व हिन्दी दिवस सुअवसर ,
मिलकर मनाएं देश वासी ।
सौभाग्य भारत का उदय हो ,
लें – पथिक श्रेय वासी प्रवासी

Vishva- hindi- diwas -par- kavita

सीताराम चौहान पथिक

हिंदी रचनाकार वेबसाइट के सभी हिंदी विद्वानों और खास तौर से सीताराम चौहान पथिक Vishva hindi diwas par kavita का सभी हिंदी भाषियों को विश्व हिंदी दिवस की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं संदेश दिया है

 362 total views,  1 views today

Abhimanyu

मेरा नाम अभिमन्यु है इस वेबसाइट को हिंदी साहित्य के प्रचार-प्रसार के लिए बनाया गया इसका उद्देश्य सभी हिंदी के रचनाकारों की रचना को विश्व तक पहचान दिलाना है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!