maa par kavita in hindi-माता/प्रेमलता शर्मा

हिंदी की वरिष्ठ लेखिका प्रेमलता शर्मा की रचना  maa par kavita in hindi -माता  हिंदी  रचनाकार  के  पाठको के  सामने  प्रस्तुत है –

माता


कविता का नाम है माता का मान
इस दुनिया में सृजन करता की
सबसे सुंदर रचना माता है
माता के ही चरणों में

सारा ब्रह्मांड समाया है
मां जैसा निश्चल प्रेम कहां
मां के आंचल सी छांव कहां
हृदय जब भी व्यथित होता है
मां शब्द ही अधरों पर आता है
अपना अस्तित्व मिटा कर

माता हमको जीवन देती है
उसके ह्रदय से कभी आह ना निकले

ऐसा अनर्थ ना करना है
हर मनुष्य का माता के प्रति

कर्तव्य यही बस बनता है
इस संसार का हर सुख वैभव
माता के चरणों में अर्पण करना है
एक बात हमेशा दिल में गांठ

बांधकर रखना है
उसके दिल को ठेस न पहुंचे

वरना ईश्वर भी रो पड़ता है

maa-par-kavita-hindiप्रेमलता शर्मा

अन्य रचना पढ़े :

माता रचना maa par kavita in hindi  कैसी लगी कमेंट बॉक्स अवश्य बताएं इससे हमारी टीम का उत्साह बढ़ता है |

 993 total views,  1 views today

Abhimanyu

मेरा नाम अभिमन्यु है इस वेबसाइट को हिंदी साहित्य के प्रचार-प्रसार के लिए बनाया गया इसका उद्देश्य सभी हिंदी के रचनाकारों की रचना को विश्व तक पहचान दिलाना है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!